Header Ads Widget

स्कूलों को फिर से खोलने पर नवीनतम दिशानिर्देश २०२१

स्कूलों को फिर से खोलने पर नवीनतम दिशानिर्देश २०२१
स्कूलों को फिर से खोलने पर नवीनतम दिशानिर्देश २०२१

भारत भर के विभिन्न राज्यों में कोरोना महामारी के कारण लगभग १८ महीने से लॉकडाउन के कारण जो स्कूल और कॉलेज बंद पड़े है उन्हें फिरसे खोलने पर कुछ राज्यों ने हल ही दिशानिर्देश जारी किये, जहां कर्नाटक और उत्तर प्रदेश को आज स्कूल-कॉलेजों को फिर से खोलने था, वहीँ कल्याण सिंह, उत्तर प्रदेश को पूर्व सीएम की मृत्यु के कारण स्कूल-कॉलेजों को खोलने का काम फ़िलहाल तो टालना पड़ा, वैसे कर्नाटक अपनी योजना के मुताबिक काम करने में कामयाब रहा। 

स्कूलों को फिर से खोलने पर नवीनतम दिशानिर्देश २०२१

सम्पूर्ण जगत को परेशान करनेवाली महाभयंकर कोरोना महामारी का कहर अब धीरे-धीरे काम हो रहा हैं,  ऐसे में कई राज्य सरकारों समेत देशभर के कुछ उच्च शिक्षण संस्थानों ने ऑनलाइन माध्यम के साथ-साथ जहां संभव हो ऐसे स्थानों पर कॉलेजों को नियमित तौर पर खोले जाने की तैयारियां कर रहे हैं। 

स्कूल और कॉलेज का परिसर सुरक्षित रखने के लिए  परिसर में प्रवेश करनेवाले प्रत्येक व्यक्ति को टीका लगाया जाना चाहिए जसमे छात्र-छात्राओं सहित पालक, कर्चारी अदि शामिल हैं, इन भौतिक कक्षाओं के साथ ही उन सभी छात्रों के लिए भी ऑनलाइन कक्षाएं जारी रहेंगी जिन्हे किसी कारणवस् ऑफ़लाइन कक्षाओं में शामिल होने में परेशानी हो।

स्कूलों को फिर से खोलने पर अन्य राज्य की स्थिति

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हाल ही में कहा कि राज्य सरकार उन स्कूलों और कॉलेजों को फिर से शुरू करने पर विचार कर रही है, जो कोरोना की दूसरी लहर के मद्देनजर अब तक बंद थे, मुख्यमंत्री ने कहा कि दुर्गा पूजा की छुट्टियों के बाद पश्चिम बंगाल में शैक्षणिक संस्थान फिर से खुल सकते हैं, जिसमें वैकल्पिक दिनों में कक्षाएं शुरू होंगी।

दिल्ली विश्वविद्यालय ने पहले विज्ञान स्ट्रीम के छात्रों के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेजों को फिर से खोलने की घोषणा की थी, लेकिन विश्वविद्यालय ने बाद में यह कहते हुए अपना कदम रद्द कर दिया कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने अभी तक परिसरों में व्यक्तिगत कक्षाओं की अनुमति नहीं दी हैं।


ओडिशा सरकार ने पहले ही १६ अगस्त से छात्रों के लिए प्रथम वर्ष के स्नातकोत्तर और स्नातक पूर्व कक्षाएं फिर से शुरू कर दी हैं, राजस्थान के सभी स्कूल और कॉलेज १ सितंबर से आधी क्षमता के साथ ऑफलाइन कक्षाओं के लिए फिर से शुरू हो जाएंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ