Header Ads Widget

लसिथ मलिंगा का क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने का फैसला

मलिंगा का क्रिकेट से संन्यास

श्रीलंका क्रिकेट टीम के विस्फोटक तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने मंगलवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने का फैसला करते हुए सभी को चौका दिया, घातक यॉर्कर बोलिंग की क्षमता के लिए जाने जाने वाले मलिंगा ने २०११ विश्व कप के फाइनल में श्रीलंका को पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, बाद में उन्होंने २०१४ टी २० विश्व कप ट्रॉफी में श्रीलंका का नेतृत्व भी किया था।

३८ वर्ष के तेज-तर्रार गेंदबाज ने अपने ट्विटर अकाउंट पर घोषणा करते हुए कहा की वे क्रिकेट के सभी प्रारूपों से सन्यास ले रहे है, और साथ ही सभी का धन्यवाद भी किया, मैदान पर उनके कुछ खास पलों को दर्शाता हुआ एक वीडियो भी साझा किया और साथ ही एक संदेश उन सभी टीमों के लिए धन्यवाद जो उनके कार्यकाल में सहभागी रहें।

१ जुलाई २००४ को मलिंगा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच के रूप में अपने क्रिकेट करियर का शुरुआत किया था।, मलिंगा ने श्रीलंका के लिए ३० टेस्ट मैच, २२६ वनडे, और ८४ टी२० अंतरराष्ट्रीय मैच खेलें, जहां उन्होंने टेस्ट मैच में १०१ विकेट, २३८ विकेट वनडे में, और टी२० अंतरराष्ट्रीय मैच १०७ विकेट लिए। 

मलिंगा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में भी एक बेहतर खिलाड़ी के तौर पर नजर आये, उन्होंने मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए काफी शानदार प्रदर्शन दिखाया और फ्रैंचाइज़ी को लीग में सबसे सफल बनने में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दिया।

मलिंगा को भारत में काफी ज्यादा पसंद किया जाता है, कई सारे उभरते चेहरे उन्हें अपनी प्रेरणा के रूप में देखते है, भारत सहित दुनिया भर में लोग उन्हें यॉर्कर के लिए पसंद करते है, दाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने इस साल जनवरी में फ्रेंचाइजी क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ